What is the internet in hindi with full Information

आप सभी लोगों ने तो internet का नाम तो सुना ही होगा। आजकल तो सभी लोग अपने जीवन में प्रतिदिन internet का उपयोग कर रहें हैं। लेकिन क्या आप लोगों को पता है कि वास्तव में इंटरनेट क्या होता है? (What is the internet in hindi) यदि आप लोगों को नहीं पता है। इंटरनेट क्या होता है? तो आज के इस लेख में हम आप लोगों को internet से जुड़ी सभी जरूरी जानकरियो के बारे में जानेंगे।

What is the internet in hindi with full Information

इंटरनेट क्या है – What is Internet in Hindi

Internet सूचना प्रौद्योगिकी की सबसे आधुनिक प्रणाली है। आप इंटरनेट को विभिन्न कंप्यूटर नेटवर्क का विश्व स्तरीय समूह कह सकते हैं। इस नेटवर्क में हजारों और लाखों कंप्यूटर एक दूसरे से जुड़े हुए हैं। कंप्यूटर आमतौर पर एक टेलीफोन लाइन के माध्यम से इंटरनेट से जुड़ा होता है। लेकिन इसके अलावा, कई और भी हैं। जिसमें कंप्यूटर इंटरनेट से जुड़ सकता है।

इंटरनेट किसी एक कंपनी या सरकार के अधीन नहीं है, लेकिन इससे जुड़े कई सर्वर हैं, जो विभिन्न संस्थानों या निजी कंपनियों के हैं। कुछ लोकप्रिय इंटरनेट सेवाएं जैसे गोफर, फाइल ट्रांसफर प्रोटोकॉल, वर्ल्ड वाइड वेब (www) का उपयोग इंटरनेट में जानकारी प्राप्त करने के लिए किया जाता है। हम इंटरनेट को दुनिया भर में विज्ञापन का माध्यम कह सकते हैं। किसी उत्पाद के बारे में वैश्विक सर्वेक्षण करने के ये सबसे आसान और सस्ते साधन हैं। यह विभिन्न सूचनाओं जैसे रिपोर्ट, लेख, कंप्यूटर आदि को प्रदर्शित करने के लिए बहुत उपयोगी उपकरण है।

इंटरनेट का इतिहास – History of Internet

मूल रूप से इंटरनेट का उपयोग अमेरिकी सेना के लिए किया जाता था। शीत युद्ध के दौरान, अमेरिकी सेना एक अच्छी, बड़ी, विश्वसनीय संचार सेवा चाहती थी। 1969 में, ARPANET नामक एक नेटवर्क चार कंप्यूटरों को जोड़कर बनाया गया था, फिर इंटरनेट की प्रगति सही ढंग से शुरू हुई। 1972 तक, इससे जुड़े कंप्यूटरों की संख्या बढ़कर 37 हो गई थी। 1973 तक, इसका विस्तार इंग्लैंड और नॉर्वे तक हो गया था। 1974 में, Arpanet को एक सामान्य लोगो के रूप में इस्तेमाल किया गया, जिसे टेलनेट के रूप में जाना जाता है।

नेटवर्क के लिए सामान्य नियम 1982 में बनाए गए थे, इन्हें प्रोटोकॉल कहा जाता है। ये प्रोटोकॉल टीसीपी/आईपी (ट्रांसमिशन कंट्रोल प्रोटोकॉल / इंटरनेट प्रोटोकॉल) के रूप में जाने जाते थे। 1990 में, अर्पानेट को हटा दिया गया और इंटरनेट नेटवर्क ऑफ नेटवर्क के रूप में बना रहा। वर्तमान में, लाखों या लाखों कंप्यूटर इंटरनेट के माध्यम से एक-दूसरे से जुड़े हुए हैं। (VSNL) Videsh Sanchar Nigam Limited भारत में इंटरनेट के लिए नेटवर्क सेवाएं प्रदान करता है।

Full Form of Internet

इंटरनेट का फुल फॉर्म इंटरकनेक्टेड नेटवर्क (Interconnected network) है। जो वास्तव में दुनिया भर में सभी वेब सर्वर का एक बहुत बड़ा नेटवर्क है। इसलिए इसे वर्ल्ड वाइड वेब या कई जगहों पर बस वेब भी कहा जाता है।

भारत में इंटरनेट की शुरूआत कब हुई?

इंटरनेट सेवा 14 अगस्त 1995 को भारत में सार्वजनिक रूप से उपलब्ध कराई गई थी, जब इसे राज्य के स्वामित्व वाली विद्या निगम लिमिटेड (VSNL) द्वारा लॉन्च किया गया था।

इंटरनेट का मालिक कौन है?

बता दें कि इंटरनेट का मालिक कोई नहीं है। सरकार द्वारा किसी भी तरह से इंटरनेट को नियंत्रित नहीं किया जाता है। बल्कि यह एक बड़ा और स्वतंत्र सहयोग है। इसका मतलब यह है कि इसे इंटरनेट पर किसी भी संस्था, किसी भी व्यक्ति, सरकारी संगठन का कोई अधिकार नहीं है। लेकिन कुछ एजेंसियां ​​सलाह देने, मानकों को निर्धारित करने और अन्य मुद्दों पर जानकारी देने में ऐसा करने में मदद करती हैं।

Internet कैसे काम करता है?

पूरी दुनिया में लगभग 900 मिलियन लोग इंटरनेट का उपयोग करते हैं और इतने सारे लोगों को एक जगह से दूसरी जगह पर इंटरनेट प्रदान करने के लिए, इंटरनेट एड्रेसिंग सिस्टम का उपयोग पोस्टल सिस्टम की तरह किया जाता है। इसकी मदद से इंटरनेट हम तक पहुंचता है।

FAQ About Internet

1. क्या इंटरनेट का कोई मालिक है?
उत्तर- नहीं इंटरनेट का कोई मालिक नहीं है।

2. इंटरनेट का पुराना नाम क्या था?
उत्तर- इसका पुराना नाम “इन्टरनेटिंग प्रोजेक्ट” था।

3. इंटरनेट को हिंदी में क्या कहतें हैं?
उत्तर- इंटरनेट को हिंदी में “अंतरजाल” कहतें हैं

Conclusion

हमें उम्मीद है कि अब आप लोग जान गये होंगे कि Internet क्या होता है? और internet से जुड़ी जानकारियाँ आप लोगों को मिल गयी होगी। यदि आपको यह लेख पसंद आया हो तो इस लेख को दूसरों के साथ जरूर share करें ताकि सबको इसके बारे में जानकारी मिल सके। धन्यवाद!